बुलंदशहर डीएम की कॉफी टेबल बुक को मिला 'अवॉर्ड फॉर एक्सीलेंस'

Published on : 07:21 AM Sep 19, 2021

रविंद्र कुमार ने दो बार अलग-अलग रास्तों से संसार की सबसे ऊॅची चोटी माउंट एवरेस्ट पर सफलतापूर्वक चढ़ाई की है. एवरेस्ट पर चढ़ाई करने वाले वह देश के पहले प्रशासनिक अधिकारी हैं. एवरेस्ट पर दो बार चढ़ाई करने वाले चंद भारतीयों में उनका नाम शुमार है.

बुलंदशहर : जिलाधिकारी रविंद्र कुमार की कॉफी टेबल बुक ‘माउंट एवरेस्ट: एक्सपीरियंस द जर्नी’ को ‘द फेडरेशन ऑफ इंडियन पब्लिशर्स’ द्वारा वर्ष 2021 के लिए ‘अवार्ड फॉर एक्सीलेंस इन बुक प्रोडक्शन’ प्रदान किया गया है.

Advertisement

window.googletag = window.googletag || {cmd: []}; googletag.cmd.push(function() {var userAgent = window.navigator.userAgent.toLowerCase();var Andrioid_App = /webview|wv/.test(userAgent);var Android_Msite = /Android|webOS|BlackBerry|IEMobile|Opera Mini/i.test(navigator.userAgent);var iosphone = /iPhone|iPad|iPod/i.test(navigator.userAgent);var is_iOS_Mobile = /(iPhone|iPod|iPad).*applewebkit(?!.*version)/i.test(navigator.userAgent); if ( Andrioid_App == true || iosphone == true ) {console.log("Mobile"); var slot_6169 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-APP-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-5545721940625-0").addService(googletag.pubads());}else if(Android_Msite == true || is_iOS_Mobile == true){console.log("m site"); var slot_6169 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-MDOT-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-5545721940625-0").addService(googletag.pubads());}else{console.log("Web"); var slot_6169=googletag.defineSlot("/175434344/ETB-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-728x90-1", [728, 90], "div-gpt-ad-5545721940625-0").addService(googletag.pubads());} googletag.pubads().enableSingleRequest();googletag.pubads().collapseEmptyDivs();googletag.enableServices(); googletag.display("div-gpt-ad-5545721940625-0");googletag.pubads().refresh([slot_6169]);googletag.pubads().setCentering(true); });
googletag.cmd.push(function() { googletag.display("div-gpt-ad-5545721940625-0");googletag.pubads().refresh(); });

बता दें कि रविंद्र कुमार ने दो बार अलग-अलग रास्तों से संसार की सबसे ऊॅची चोटी माउंट एवरेस्ट पर सफलतापूर्वक चढ़ाई की है. एवरेस्ट पर चढ़ाई करने वाले वह देश के पहले प्रशासनिक अधिकारी हैं. एवरेस्ट पर दो बार चढ़ाई करने वाले चंद भारतीयों में उनका नाम शुमार है.

उनकी कॉफी टेबल बुक ‘माउंट एवरेस्ट: एक्सपीरियंस द जर्नी’ में एवरेस्ट की दुर्गम यात्रा की चित्रात्मक प्रस्तुति की गयी है. इस कॉफी टेबल बुक में हिमालय की प्राकृतिक छटा का अत्यंत मनोरम चित्रण किया गया है जो काफी सराही जा रही है. Advertisement

इस कॉफी टेबल बुक को देखने से माउंट एवरेस्ट यात्रा की जीवंत अनुभूति होती है. इस पुस्तक में प्रत्येक चित्र के साथ विवरण भी दिए गए हैं जिससे पाठक स्वयं को एवरेस्ट की भौगोलिक अवस्थिति से पूर्णतः संबद्ध महसूस करता है.

यह भी पढ़ें : भाकियू का प्रदर्शन, चिकित्सक व स्टाफ के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग पर अड़े किसान

window.googletag = window.googletag || {cmd: []}; googletag.cmd.push(function() {var userAgent = window.navigator.userAgent.toLowerCase();var Andrioid_App = /webview|wv/.test(userAgent);var Android_Msite = /Android|webOS|BlackBerry|IEMobile|Opera Mini/i.test(navigator.userAgent);var iosphone = /iPhone|iPad|iPod/i.test(navigator.userAgent);var is_iOS_Mobile = /(iPhone|iPod|iPad).*applewebkit(?!.*version)/i.test(navigator.userAgent); if ( Andrioid_App == true || iosphone == true ) {console.log("Mobile"); var slot_7412 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-APP-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-2177114671376-0").addService(googletag.pubads());}else if(Android_Msite == true || is_iOS_Mobile == true){console.log("m site"); var slot_7412 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-MDOT-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-2177114671376-0").addService(googletag.pubads());}else{console.log("Web"); var slot_7412=googletag.defineSlot("/175434344/ETB-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-728x90-1", [728, 90], "div-gpt-ad-2177114671376-0").addService(googletag.pubads());} googletag.pubads().enableSingleRequest();googletag.pubads().collapseEmptyDivs();googletag.enableServices(); googletag.display("div-gpt-ad-2177114671376-0");googletag.pubads().refresh([slot_7412]);googletag.pubads().setCentering(true); });
googletag.cmd.push(function() { googletag.display("div-gpt-ad-2177114671376-0");googletag.pubads().refresh(); });

यह कॉफी-टेबल बुक जाने-माने पब्लिशर ब्लूम्सबरी पब्लिशिंग इंडिया प्रा.लि नई दिल्ली से प्रकाशित हुई है. इस काफी टेबल बुक में पब्लिशर द्वारा विशेष तरह के पेपर का उपयोग किया गया है. इसमें लोगों को हिमालय की छटा का असली आभास होता है.

बुलंदशहर डीएम की कॉफी टेबल बुक को मिला 'अवॉर्ड फॉर एक्सीलेंस'

इस बुक की प्रस्तावना परमपूज्य दलाई लामा द्वारा लिखी गयी है. मा. सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश विनीत सरन, भारत के निर्वाचन आयुक्त राजीव कुमार, पूर्व अटार्नी जनरल सोली जे. सोराबजी, जलपुरूष एवं रैमन मैग्सेसे एवार्डी राजेंद्र सिंह, सुलभ इंटरनेशनल के संस्थापक डॉ. बिन्देश्वर पाठक तथा बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार एवं जै़की श्राफ़, गायक उदित नारायण आदि विख्यात हस्तियों ने भी इस पुस्तक की प्रशंसा की है. यह पुस्तक एमेज़ोन, फ्लिपकार्ट तथा प्रमुख बुक स्टोर्स पर उपलब्ध है.

इस काफी टेबल बुक को सम्मानित करने वाली संस्था ‘द फेडरेशन ऑफ इंडियन पब्लिशर्स’ इंटरनेशनल पब्लिशर्स एसोशियेसन, जनेवा से एफीलियेटिड है. देश के समस्त प्रमुख प्रकाशक इसके सदस्य हैं.

इस फेडरेशन द्वारा अत्यंत सीमित पुरस्कार दिए जाते हैं. इस वर्ष आर्ट एंड कॉफी टेबिल बुक श्रेणी में ‘माउंट एवरेस्ट: एक्सपीरियंस द जर्नी’ कॉफी टेबल बुक का चयन किया गया है. दिनांक 17 सितंबर, 2021 को वाइसरीगल, द क्लेरिज़, नई दिल्ली में उक्त पुरस्कार प्रदान किया गया.

window.googletag = window.googletag || {cmd: []}; googletag.cmd.push(function() {var userAgent = window.navigator.userAgent.toLowerCase();var Andrioid_App = /webview|wv/.test(userAgent);var Android_Msite = /Android|webOS|BlackBerry|IEMobile|Opera Mini/i.test(navigator.userAgent);var iosphone = /iPhone|iPad|iPod/i.test(navigator.userAgent);var is_iOS_Mobile = /(iPhone|iPod|iPad).*applewebkit(?!.*version)/i.test(navigator.userAgent); if ( Andrioid_App == true || iosphone == true ) {console.log("Mobile"); var slot_7338 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-APP-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-3856357227720-0").addService(googletag.pubads());}else if(Android_Msite == true || is_iOS_Mobile == true){console.log("m site"); var slot_7338 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-MDOT-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-3856357227720-0").addService(googletag.pubads());}else{console.log("Web"); var slot_7338=googletag.defineSlot("/175434344/ETB-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-728x90-1", [728, 90], "div-gpt-ad-3856357227720-0").addService(googletag.pubads());} googletag.pubads().enableSingleRequest();googletag.pubads().collapseEmptyDivs();googletag.enableServices(); googletag.display("div-gpt-ad-3856357227720-0");googletag.pubads().refresh([slot_7338]);googletag.pubads().setCentering(true); });
googletag.cmd.push(function() { googletag.display("div-gpt-ad-3856357227720-0");googletag.pubads().refresh(); });
Next
Latest news direct to your inbox.