अयोध्या में श्री राम जन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की बैठक, सड़कें चौड़ी करने समेत हुए कई अहम फैसले

Published on : 07:50 PM Nov 30, 2021

अयोध्या में श्री राम जन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की बैठक के दूसरे दिन हुए कई अहम फैसले. बैठक में राम मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्र (Nripendra Misra) सहित ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय, सदस्य अनिल मिश्र और विमलेंद्र मोहन प्रताप मिश्र भी रहे मौजूद.

अयोध्या: श्री राम जन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की बैठक (Shri Ram Janmabhoomi Teerth Kshetra Trust Meeting) दूसरे दिन समाप्त हुई. बैठक में निर्माण कार्य में शामिल संस्था लार्सन एंड टूब्रो और तकनीकी सहयोगी टाटा कंसल्टेंसी के विषय विशेषज्ञ मौजूद रहे. दूसरे दिन की बैठक शुरू होने से पहले ट्रस्ट के पदाधिकारियों ने मंदिर निर्माण के साथ-साथ मंदिर परिसर की ओर जाने वाले मार्ग पर चलकर स्थलीय निरीक्षण भी किया.

Advertisement

window.googletag = window.googletag || {cmd: []}; googletag.cmd.push(function() {var userAgent = window.navigator.userAgent.toLowerCase();var Andrioid_App = /webview|wv/.test(userAgent);var Android_Msite = /Android|webOS|BlackBerry|IEMobile|Opera Mini/i.test(navigator.userAgent);var iosphone = /iPhone|iPad|iPod/i.test(navigator.userAgent);var is_iOS_Mobile = /(iPhone|iPod|iPad).*applewebkit(?!.*version)/i.test(navigator.userAgent); if ( Andrioid_App == true || iosphone == true ) {console.log("Mobile"); var slot_8686 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-APP-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-2249387826249-0").addService(googletag.pubads());}else if(Android_Msite == true || is_iOS_Mobile == true){console.log("m site"); var slot_8686 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-MDOT-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-2249387826249-0").addService(googletag.pubads());}else{console.log("Web"); var slot_8686=googletag.defineSlot("/175434344/ETB-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-728x90-1", [728, 90], "div-gpt-ad-2249387826249-0").addService(googletag.pubads());} googletag.pubads().enableSingleRequest();googletag.pubads().collapseEmptyDivs();googletag.enableServices(); googletag.display("div-gpt-ad-2249387826249-0");googletag.pubads().refresh([slot_8686]);googletag.pubads().setCentering(true); });
googletag.cmd.push(function() { googletag.display("div-gpt-ad-2249387826249-0");googletag.pubads().refresh(); });
जानकारी देते श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट महासचिव चंपत राय

इस निरीक्षण का उद्देश्य यह जानकारी लेना था कि किन रास्तों पर आने वाले दिनों में श्रद्धालुओं की भीड़ ज्यादा होगी. उसी के आधार पर सड़कों को और बेहतर बनाने और चौड़ा किए जाने के साथ ही कुछ नए रास्तों का निर्माण भी संभव है. श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट महासचिव चंपत राय (Champat Rai) ने कहा मीडिया से बात करते हुए ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने बताया कि मंदिर निर्माण की प्रक्रिया अनवरत चल रही है.

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट महासचिव चंपत राय ने कहा कि दिसंबर 2023 तक मंदिर का निर्माण पूर्ण कर लिया जाएगा. इसके साथ ही 70 एकड़ के परिसर में कई अन्य निर्माण कार्य होने हैं, जिनमें सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट वाटर ट्रीटमेंट प्लांट, फायर सेफ्टी सिस्टम सहित कई अन्य काम हैं, जो किये जाने हैं. इन सभी कामों को सुविधाजनक रुप से संपन्न कराने के लिए विचार विमर्श किया गया है. श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ने पर हमें पानी की ज्यादा जरूरत पड़ेगी. श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए कई अन्य संसाधनों की व्यवस्था करनी है. इन सभी को लेकर बैठक में चर्चा की गई है.


श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट महासचिव चंपत राय ने कहा कि ट्रस्ट के पदाधिकारियों ने उन मार्गों पर चलकर भी देखा है, जिन मार्गों पर आने वाले दिनों में श्रद्धालुओं की सर्वाधिक भीड़ होने की संभावना है. वो रास्ते कितने चौड़े हैं, कितना दबाव झेल सकते हैं. इन सभी चीजों का परीक्षण किया गया है. प्रारंभिक परीक्षण में यह बात सामने आई है कि मुहावरा बाजार से राम जन्म भूमि की तरफ आने वाले मार्ग पर श्रद्धालुओं का सर्वाधिक दबाव होगा. Advertisement

Read More :

ये भी पढ़ें- सोनू सूद ने 8 माह की मन्हा की मदद करने की अपील की, इलाज के लिए चाहिए 16 करोड़ रुपये

अयोध्या में श्री राम जन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की बैठक के दूसरे दिन इसे ध्यान में रखकर सड़कों को और बेहतर बनाने की योजना पर विचार विमर्श हुआ. जल्द ही इन योजनाओं पर कार्य शुरू होगा. इस बार की बैठक में फायर सेफ्टी सिस्टम पर चर्चा की गई है, जिससे मंदिर परिसर और यहां आने वाले श्रद्धालुओं को सुरक्षा दी जा सके. इसके लिए फायर सेफ्टी से जुड़े तकनीकी विशेषज्ञों को पूरे 70 एकड़ परिसर का निरीक्षण भी कराया गया.

ऐसी ही जरूरी और विश्वसनीय खबरों के लिए डाउनलोड करें ईटीवी भारत ऐप

window.googletag = window.googletag || {cmd: []}; googletag.cmd.push(function() {var userAgent = window.navigator.userAgent.toLowerCase();var Andrioid_App = /webview|wv/.test(userAgent);var Android_Msite = /Android|webOS|BlackBerry|IEMobile|Opera Mini/i.test(navigator.userAgent);var iosphone = /iPhone|iPad|iPod/i.test(navigator.userAgent);var is_iOS_Mobile = /(iPhone|iPod|iPad).*applewebkit(?!.*version)/i.test(navigator.userAgent); if ( Andrioid_App == true || iosphone == true ) {console.log("Mobile"); var slot_7496 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-APP-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-8753777778849-0").addService(googletag.pubads());}else if(Android_Msite == true || is_iOS_Mobile == true){console.log("m site"); var slot_7496 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-MDOT-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-8753777778849-0").addService(googletag.pubads());}else{console.log("Web"); var slot_7496=googletag.defineSlot("/175434344/ETB-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-728x90-1", [728, 90], "div-gpt-ad-8753777778849-0").addService(googletag.pubads());} googletag.pubads().enableSingleRequest();googletag.pubads().collapseEmptyDivs();googletag.enableServices(); googletag.display("div-gpt-ad-8753777778849-0");googletag.pubads().refresh([slot_7496]);googletag.pubads().setCentering(true); });
googletag.cmd.push(function() { googletag.display("div-gpt-ad-8753777778849-0");googletag.pubads().refresh(); });
Next
Latest news direct to your inbox.