जब-जब हम पथभ्रष्ट हुए हैं महात्मा गांधी जैसा कोई न कोई अवतार हुआ है: केरल राज्यपाल

Published on : 10:22 PM Oct 02, 2021

केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान शनिवार देर शाम बाराबंकी पहुंचे. जहां उन्होंने गांधी जयंती समारोह में गांधी दर्शन पर व्याख्यान दिया. उन्होंने कहा कि आज हमारा आचरण विरासत के मुताबिक नहीं चल रहा है.

बाराबंकी: जब-जब हम पथभ्रष्ट हुए हैं, जब-जब हम अपने आदर्शों से अलग हुए हैं तब-तब कोई न कोई अवतार चाहे वो स्वामी विवेकानंद की शक्ल में, राजाराम मोहन राय या विद्यासागर या फिर महात्मा गांधी की शक्ल में आते रहे हैं. ये कहना है केरल के राज्यपाल माननीय आरिफ मोहम्मद खान का. राज्यपाल केरल शनिवार देर शाम बाराबंकी में आयोजित गांधी जयंती समारोह में गांधी दर्शन पर व्याख्यान दे रहे थे. इस दौरान उन्होंने कहा कि आज हमारा आचरण हमारी विरासत के मुताबिक नहीं चल रहा है. करीब घण्टे भर के अपने व्याख्यान में उन्होंने अप्रत्यक्ष रूप से पड़ोसी अफगानिस्तान में महिलाओं के साथ हो रहे दुर्व्यवहार पर भी चर्चा की.

Advertisement

window.googletag = window.googletag || {cmd: []}; googletag.cmd.push(function() {var userAgent = window.navigator.userAgent.toLowerCase();var Andrioid_App = /webview|wv/.test(userAgent);var Android_Msite = /Android|webOS|BlackBerry|IEMobile|Opera Mini/i.test(navigator.userAgent);var iosphone = /iPhone|iPad|iPod/i.test(navigator.userAgent);var is_iOS_Mobile = /(iPhone|iPod|iPad).*applewebkit(?!.*version)/i.test(navigator.userAgent); if ( Andrioid_App == true || iosphone == true ) {console.log("Mobile"); var slot_1279 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-APP-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-3083713739158-0").addService(googletag.pubads());}else if(Android_Msite == true || is_iOS_Mobile == true){console.log("m site"); var slot_1279 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-MDOT-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-3083713739158-0").addService(googletag.pubads());}else{console.log("Web"); var slot_1279=googletag.defineSlot("/175434344/ETB-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-728x90-1", [728, 90], "div-gpt-ad-3083713739158-0").addService(googletag.pubads());} googletag.pubads().enableSingleRequest();googletag.pubads().collapseEmptyDivs();googletag.enableServices(); googletag.display("div-gpt-ad-3083713739158-0");googletag.pubads().refresh([slot_1279]);googletag.pubads().setCentering(true); });
googletag.cmd.push(function() { googletag.display("div-gpt-ad-3083713739158-0");googletag.pubads().refresh(); });



गांधी दर्शन पर केरल के गवर्नर का व्याख्यान

शहर के गांधी भवन में गांधी जयंती समारोह ट्रस्ट द्वारा आयोजित कार्यक्रम में पहुंचे केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने गीता और कुरान के तमाम उदाहरण देते हुए समाज की तमाम सच्चाइयों से रूबरू कराया. इस दौरान उन्होंने कई दृष्टांतो का हवाला देते हुए महात्मा गांधी का दर्शन बयान किया. उन्होंने कहा कि लोग अपनी संस्कृति भूलते जा रहे हैं.उन्होंने भारत की विभिन्नता में एकता की संस्कृति की तारीफ की. उन्होंने गांधी के सत्य अहिंसा के उसूलों को भारतीय संस्कृति का हिस्सा बताया.उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी ने इन उसूलों को खोजा नहीं है बल्कि इन्हें जिंदा किया जिन्हें हम भूल गए थे. Advertisement

जानकारी देते केरल राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान.

बंदूक संस्कृति पर व्यक्त की चिंता

यही नहीं इस दौरान उन्होंने पड़ोसी देश अफगानिस्तान पर भी अप्रत्यक्ष रूप से निशाना साधा. उन्होंने कहा कि बंदूक लेकर शहर की गलियों में घूमने वाले अपने को स्वतंत्रता सेनानी बताते हैं. उनके द्वारा महिलाओं के साथ किए जा रहे बर्ताव पर उन्होंने कहा कि जिस समाज मे महिलाओं को सिर्फ बच्चा पैदा करने तक ही सीमित समझा जाता है या उन्हें घर पर बैठा दिया जाता है. वह समाज कमजोर हो जाता है. उन्होंने कहा कि ये जो बंदूक की संस्कृति है. महिलाओं को जबरन घर मे बैठाने की संस्कृति है. भले ही हम उनको नहीं रोक सकते, लेकिन चिंतित तो हो सकते हैं. अपना दृष्टिकोण तो रख सकते हैं. उन्होंने कहा कि चाहे किसी की जितनी भी शानदार विरासत रही हो उसके कर्मो का फल जरूर मिलता है.

window.googletag = window.googletag || {cmd: []}; googletag.cmd.push(function() {var userAgent = window.navigator.userAgent.toLowerCase();var Andrioid_App = /webview|wv/.test(userAgent);var Android_Msite = /Android|webOS|BlackBerry|IEMobile|Opera Mini/i.test(navigator.userAgent);var iosphone = /iPhone|iPad|iPod/i.test(navigator.userAgent);var is_iOS_Mobile = /(iPhone|iPod|iPad).*applewebkit(?!.*version)/i.test(navigator.userAgent); if ( Andrioid_App == true || iosphone == true ) {console.log("Mobile"); var slot_8237 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-APP-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-6533962234188-0").addService(googletag.pubads());}else if(Android_Msite == true || is_iOS_Mobile == true){console.log("m site"); var slot_8237 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-MDOT-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-6533962234188-0").addService(googletag.pubads());}else{console.log("Web"); var slot_8237=googletag.defineSlot("/175434344/ETB-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-728x90-1", [728, 90], "div-gpt-ad-6533962234188-0").addService(googletag.pubads());} googletag.pubads().enableSingleRequest();googletag.pubads().collapseEmptyDivs();googletag.enableServices(); googletag.display("div-gpt-ad-6533962234188-0");googletag.pubads().refresh([slot_8237]);googletag.pubads().setCentering(true); });
googletag.cmd.push(function() { googletag.display("div-gpt-ad-6533962234188-0");googletag.pubads().refresh(); });

इसे भी पढे़ं- इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के छात्रों ने सैंड आर्ट बनाकर किया बापू को याद

Next
Latest news direct to your inbox.