माधवी पुरी बुच ने सेबी चेयरपर्सन का पदभार संभाला, कही ये बड़ी बात

Published on : 07:54 PM Mar 02, 2022

माधवी पुरी बुच (Madhabi puri Buch) ने भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड की चेयरपर्सन का पदभार संभाल लिया है (madhabi puri buch sebi chief). सेबी प्रमुख पद पर नियुक्त होने वाली वह पहली महिला हैं. माधवी मुंबई में 26 नवंबर, 2008 के भयानक हमले में ताज होटल में थीं.

मुंबई : माधवी पुरी बुच ने भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) के प्रमुख के रूप में पदभार संभाल लिया है. उऩ्होंने अजय त्यागी का स्थान लिया, जिन्होंने अपना पांच साल का कार्यकाल पूरा किया. बुच महत्वपूर्ण वित्तीय नियामक का नेतृत्व करने वाली पहली महिला हैं. सेबी की नींव मजबूत करने के लिए उन्होंने त्यागी को धन्यवाद दिया. माधवी ने कहा कि 'आपने हमें जो मजबूत नींव दी है, उसके निर्माण के लिए तत्पर हैं.' वह सेबी द्वारा प्रमुख के रूप में कार्यभार संभालने के लिए आयोजित एक कार्यक्रम में बोल रही थीं. कार्यक्रम में त्यागी को भी सम्मानित किया गया.

Advertisement

window.googletag = window.googletag || {cmd: []}; googletag.cmd.push(function() {var userAgent = window.navigator.userAgent.toLowerCase();var Andrioid_App = /webview|wv/.test(userAgent);var Android_Msite = /Android|webOS|BlackBerry|IEMobile|Opera Mini/i.test(navigator.userAgent);var iosphone = /iPhone|iPad|iPod/i.test(navigator.userAgent);var is_iOS_Mobile = /(iPhone|iPod|iPad).*applewebkit(?!.*version)/i.test(navigator.userAgent); if ( Andrioid_App == true || iosphone == true ) {console.log("Mobile"); var slot_7421 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-APP-ADP-HIndi-Delhi-Bharat-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-6589933676369-1").addService(googletag.pubads());}else if(Android_Msite == true || is_iOS_Mobile == true){console.log("m site"); var slot_7421 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-MDOT-ADP-HIndi-Delhi-Bharat-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-6589933676369-1").addService(googletag.pubads());}else{console.log("Web"); var slot_7421=googletag.defineSlot("/175434344/ETB-ADP-HIndi-Delhi-Bharat-728x90-1", [728, 90], "div-gpt-ad-6589933676369-1").addService(googletag.pubads());} googletag.pubads().enableSingleRequest();googletag.pubads().collapseEmptyDivs();googletag.enableServices(); googletag.display("div-gpt-ad-6589933676369-1");googletag.pubads().refresh([slot_7421]);googletag.pubads().setCentering(true); });
googletag.cmd.push(function() { googletag.display("div-gpt-ad-6589933676369-1");googletag.pubads().refresh(); });

बुच ने दो दशकों तक निजी क्षेत्र के साथ काम किया है, जिसमें आईसीआईसीआई समूह के साथ 17 साल से अधिक समय तक काम किया है. उन्होंने आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज लिमिटेड में प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) तथा आईसीआईसीआई बैंक के बोर्ड में कार्यकारी निदेशक के रूप में भी काम किया है. सेंट स्टीफंस कॉलेज से स्नातक, बुच ने भारतीय प्रबंधन संस्थान-अहमदाबाद से एमबीए किया है.

एनएसई मामले में सेबी के अधिकार क्षेत्र में रहते हुए काम किया : त्यागी
वहीं, भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) के निवर्तमान प्रमुख अजय त्यागी ने बुधवार को कहा कि पूंजी बाजार नियामक ने एनएसई मामले में अपने अधिकार क्षेत्र के दायरे में रहते हुए और अपनी समझ के अनुसार कार्य किया. उन्होंने इस मामले में आदेशों को 'कमजोर' किए जाने की बात से इनकार किया. पांच साल का कार्यकाल समाप्त होने के बाद नियामक प्रमुख पद से हटने के बाद त्यागी ने कहा कि कई अन्य कानून प्रवर्तन एजेंसियां भी इस मामले की जांच कर रही हैं. Advertisement

Read More :

window.googletag = window.googletag || {cmd: []}; googletag.cmd.push(function() {var userAgent = window.navigator.userAgent.toLowerCase();var Andrioid_App = /webview|wv/.test(userAgent);var Android_Msite = /Android|webOS|BlackBerry|IEMobile|Opera Mini/i.test(navigator.userAgent);var iosphone = /iPhone|iPad|iPod/i.test(navigator.userAgent);var is_iOS_Mobile = /(iPhone|iPod|iPad).*applewebkit(?!.*version)/i.test(navigator.userAgent); if ( Andrioid_App == true || iosphone == true ) {console.log("Mobile"); var slot_8520 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-APP-ADP-HIndi-Delhi-Bharat-300x250-2", [300, 250], "div-gpt-ad-6350460908595-2").addService(googletag.pubads());}else if(Android_Msite == true || is_iOS_Mobile == true){console.log("m site"); var slot_8520 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-MDOT-ADP-HIndi-Delhi-Bharat-300x250-2", [300, 250], "div-gpt-ad-6350460908595-2").addService(googletag.pubads());}else{console.log("Web"); var slot_8520=googletag.defineSlot("/175434344/ETB-ADP-HIndi-Delhi-Bharat-728x90-2", [728, 90], "div-gpt-ad-6350460908595-2").addService(googletag.pubads());} googletag.pubads().enableSingleRequest();googletag.pubads().collapseEmptyDivs();googletag.enableServices(); googletag.display("div-gpt-ad-6350460908595-2");googletag.pubads().refresh([slot_8520]);googletag.pubads().setCentering(true); });
googletag.cmd.push(function() { googletag.display("div-gpt-ad-6350460908595-2");googletag.pubads().refresh(); });

त्यागी ने कहा, 'अब तक जो तथ्य और निष्कर्ष सार्वजनिक रूप से उपलब्ध हैं वे सेबी की खोजबीन पर आधारित हैं जिनका उसने अपने आदेश में खुलासा किया था. हमें अन्य एजेंसियों की जांच का भी इंतजार करना चाहिए.' उन्होंने कहा कि सेबी अन्य एजेंसियों के साथ सहयोग कर रहा है और उनके द्वारा मांगी गई जानकारी भी उपलब्ध करवा रहा है.

माधवी पुरी बुच को कार्यभार सौंपने के बाद त्यागी ने कहा कि एनएसई का मामला 2010-2015 के बीच हुए घटनाक्रमों से जुड़ा है और सेबी ने उनके नेतृत्व में पूरी गंभीरता से जांच शुरू की. त्यागी ने कहा, 'हमने अपने कार्यक्षेत्र के दायरे में रहते हुए और अपनी समझ के अनुसार आदेश दिए. यह नहीं कहा जा सकता कि नियामक ने आदेशों को कमजोर किया.'

window.googletag = window.googletag || {cmd: []}; googletag.cmd.push(function() {var userAgent = window.navigator.userAgent.toLowerCase();var Andrioid_App = /webview|wv/.test(userAgent);var Android_Msite = /Android|webOS|BlackBerry|IEMobile|Opera Mini/i.test(navigator.userAgent);var iosphone = /iPhone|iPad|iPod/i.test(navigator.userAgent);var is_iOS_Mobile = /(iPhone|iPod|iPad).*applewebkit(?!.*version)/i.test(navigator.userAgent); if ( Andrioid_App == true || iosphone == true ) {console.log("Mobile"); var slot_8694 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-APP-ADP-HIndi-Delhi-Bharat-300x250-3", [300, 250], "div-gpt-ad-3545324962149-3").addService(googletag.pubads());}else if(Android_Msite == true || is_iOS_Mobile == true){console.log("m site"); var slot_8694 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-MDOT-ADP-HIndi-Delhi-Bharat-300x250-3", [300, 250], "div-gpt-ad-3545324962149-3").addService(googletag.pubads());}else{console.log("Web"); var slot_8694=googletag.defineSlot("/175434344/ETB-ADP-HIndi-Delhi-Bharat-728x90-3", [728, 90], "div-gpt-ad-3545324962149-3").addService(googletag.pubads());} googletag.pubads().enableSingleRequest();googletag.pubads().collapseEmptyDivs();googletag.enableServices(); googletag.display("div-gpt-ad-3545324962149-3");googletag.pubads().refresh([slot_8694]);googletag.pubads().setCentering(true); });
googletag.cmd.push(function() { googletag.display("div-gpt-ad-3545324962149-3");googletag.pubads().refresh(); });

पढ़ें- माधवी पुरी बुच बनीं सेबी की पहली महिला चेयरपर्सन

पढ़ें- NSE की योगी गाथा: इनके इशारे पर चित्रा रामकृष्ण चला रही थीं इंडियन स्टॉक एक्सचेंज

(PTI)

Next
Latest news direct to your inbox.