किसानों के लिए कृषि कानून काले और देश के लिए मोदी काला है: राकेश टिकैत

Published on : 07:03 PM Oct 13, 2021

किसान यूनियन द्वारा आयोजित स्वर्गीय महेंद्र सिंह टिकैत की याद में दसवें सामूहिक विवाह कार्यक्रम में पहुंचे राकेश टिकैत ने कहा कि मंत्री पुत्र की गिरफ़्तारी के बाद लखीमपुर मामला शांत नहीं हुआ है. किसानों का आंदोलन तब तक जारी रहेगा जब तक मंत्री अजय मिश्र की गिरफ्तारी और बर्खास्तगी नहीं हो जाती.

बाराबंकी. बाराबंकी पहुंचे किसान नेता राकेश टिकैत ने पीएम मोदी पर कटाक्ष किया. कहा कि जिस तरह किसानों के लिए कृषि कानून काले हैं, उसी तरह देश के लिए मोदी काला है. राकेश टिकैत यहां किसान यूनियन द्वारा आयोजित सामूहिक विवाह कार्यक्रम में हिस्सा लेने आये थे.

Advertisement

window.googletag = window.googletag || {cmd: []}; googletag.cmd.push(function() {var userAgent = window.navigator.userAgent.toLowerCase();var Andrioid_App = /webview|wv/.test(userAgent);var Android_Msite = /Android|webOS|BlackBerry|IEMobile|Opera Mini/i.test(navigator.userAgent);var iosphone = /iPhone|iPad|iPod/i.test(navigator.userAgent);var is_iOS_Mobile = /(iPhone|iPod|iPad).*applewebkit(?!.*version)/i.test(navigator.userAgent); if ( Andrioid_App == true || iosphone == true ) {console.log("Mobile"); var slot_9439 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-APP-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-9805933241608-0").addService(googletag.pubads());}else if(Android_Msite == true || is_iOS_Mobile == true){console.log("m site"); var slot_9439 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-MDOT-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-9805933241608-0").addService(googletag.pubads());}else{console.log("Web"); var slot_9439=googletag.defineSlot("/175434344/ETB-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-728x90-1", [728, 90], "div-gpt-ad-9805933241608-0").addService(googletag.pubads());} googletag.pubads().enableSingleRequest();googletag.pubads().collapseEmptyDivs();googletag.enableServices(); googletag.display("div-gpt-ad-9805933241608-0");googletag.pubads().refresh([slot_9439]);googletag.pubads().setCentering(true); });
googletag.cmd.push(function() { googletag.display("div-gpt-ad-9805933241608-0");googletag.pubads().refresh(); });
किसानों के लिए कृषि कानून काले और देश के लिए मोदी काला है: राकेश टिकैत

इस दौरान उन्होंने कहा कि लखीमपुर (Lakheempur) मामले में मंत्री पुत्र आशीष मिश्र की गिरफ्तारी रेड कार्पेट गिरफ्तारी (red carpet arresting) है और गुलदस्तों के साथ पूछताछ (interrogation with bouquet)है. किसानों का लखीमपुर कांड को लेकर आंदोलन तब तक जारी रहेगा जब तक मंत्री अजय मिश्र की गिरफ्तारी और बर्खास्तगी नहीं हो जाती.

राकेश टिकैत ने मीडिया से बातचीत में बताया कि लखीमपुर आंदोलन तब तक जारी रहेगा जब तक मंत्री की गिरफ्तारी और बर्खास्तगी नहीं हो जाती. आंदोलन की अगली रणनीति बनाने के लिए किसान यूनियन आगामी 26 अक्टूबर को लखनऊ में एक महापंचायत आयोजित करने जा रहा है. Advertisement

मंत्री पुत्र की गिरफ्तारी "रेड कार्पेट गिरफ्तारी" और पूछताछ "गुलदस्तों के साथ पूछताछ" : राकेश टिकैत


मंत्री की गिरफ्तारी और बर्खास्तगी तक जारी रहेगा आंदोलन

किसान यूनियन द्वारा आयोजित स्वर्गीय महेंद्र सिंह टिकैत की याद में दसवें सामूहिक विवाह कार्यक्रम में पहुंचे राकेश टिकैत ने कहा कि मंत्री पुत्र की गिरफ़्तारी के बाद लखीमपुर मामला शांत नहीं हुआ है. किसानों का आंदोलन तब तक जारी रहेगा जब तक मंत्री अजय मिश्र की गिरफ्तारी और बर्खास्तगी नहीं हो जाती. कहा कि वे लाशों पर राजनीति नहीं करते. राकेश टिकैत ने कहा कि मंत्री पुत्र की गिरफ्तारी बिल्कुल रेड कार्पेट गिरफ्तारी है.

window.googletag = window.googletag || {cmd: []}; googletag.cmd.push(function() {var userAgent = window.navigator.userAgent.toLowerCase();var Andrioid_App = /webview|wv/.test(userAgent);var Android_Msite = /Android|webOS|BlackBerry|IEMobile|Opera Mini/i.test(navigator.userAgent);var iosphone = /iPhone|iPad|iPod/i.test(navigator.userAgent);var is_iOS_Mobile = /(iPhone|iPod|iPad).*applewebkit(?!.*version)/i.test(navigator.userAgent); if ( Andrioid_App == true || iosphone == true ) {console.log("Mobile"); var slot_3269 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-APP-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-1299319471847-0").addService(googletag.pubads());}else if(Android_Msite == true || is_iOS_Mobile == true){console.log("m site"); var slot_3269 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-MDOT-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-1299319471847-0").addService(googletag.pubads());}else{console.log("Web"); var slot_3269=googletag.defineSlot("/175434344/ETB-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-728x90-1", [728, 90], "div-gpt-ad-1299319471847-0").addService(googletag.pubads());} googletag.pubads().enableSingleRequest();googletag.pubads().collapseEmptyDivs();googletag.enableServices(); googletag.display("div-gpt-ad-1299319471847-0");googletag.pubads().refresh([slot_3269]);googletag.pubads().setCentering(true); });
googletag.cmd.push(function() { googletag.display("div-gpt-ad-1299319471847-0");googletag.pubads().refresh(); });

यह भी पढ़ें : सपा विधायक का आरोप- नहीं मिला सरकार का सहयोग इसलिए क्षेत्र में नहीं हो सके कई काम

तीनों कृषि कानूनों को स्टे नहीं, वापस ले सरकार

कृषि के तीन नए कानूनों को लेकर तकरीबन एक वर्ष से जारी आंदोलन की बाबत राकेश टिकैत ने कहा कि जब तक सरकार बात नहीं करती तब तक आंदोलन जारी रहेगा. चाहे कई वर्ष बीत जाएं. सरकार द्वारा ये कानून स्टे कर दिए गए हैं तब फिर आंदोलन का क्या औचित्य. इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि स्टे नहीं कानूनों को वापस लिया जाय.

एमएसपी लागू न होने से सस्ते में धान खरीद रही सरकार

राकेश टिकैत ने कहा कि इन कानूनों के चलते वर्तमान में धान किस रेट पर बिक रहा है, ये सरकार की करामात है. हजार बारह सौ रुपये में धान खरीदकर सरकार किसानों के घरों में लूट कर रही है. सरकार को तो बड़े उद्योगपतियों और बड़े व्यापारियों को फायदा कराना है. इसीलिए किसानों का धान और फसलें सस्ते में ले रहे हैं.

window.googletag = window.googletag || {cmd: []}; googletag.cmd.push(function() {var userAgent = window.navigator.userAgent.toLowerCase();var Andrioid_App = /webview|wv/.test(userAgent);var Android_Msite = /Android|webOS|BlackBerry|IEMobile|Opera Mini/i.test(navigator.userAgent);var iosphone = /iPhone|iPad|iPod/i.test(navigator.userAgent);var is_iOS_Mobile = /(iPhone|iPod|iPad).*applewebkit(?!.*version)/i.test(navigator.userAgent); if ( Andrioid_App == true || iosphone == true ) {console.log("Mobile"); var slot_1773 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-APP-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-9505733855362-0").addService(googletag.pubads());}else if(Android_Msite == true || is_iOS_Mobile == true){console.log("m site"); var slot_1773 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-MDOT-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-9505733855362-0").addService(googletag.pubads());}else{console.log("Web"); var slot_1773=googletag.defineSlot("/175434344/ETB-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-728x90-1", [728, 90], "div-gpt-ad-9505733855362-0").addService(googletag.pubads());} googletag.pubads().enableSingleRequest();googletag.pubads().collapseEmptyDivs();googletag.enableServices(); googletag.display("div-gpt-ad-9505733855362-0");googletag.pubads().refresh([slot_1773]);googletag.pubads().setCentering(true); });
googletag.cmd.push(function() { googletag.display("div-gpt-ad-9505733855362-0");googletag.pubads().refresh(); });

राकेश टिकैत ने बड़े ही आत्मविश्वास से कहा कि सरकार इन कानूनों को वापस लेगी और यही सरकार वापस लेगी. आगामी चुनाव के दौरान आंदोलन की रणनीति के सवाल पर उन्होंने कहा कि आचार संहिता लागू होने दीजिए.

Next
Latest news direct to your inbox.