लखीमपुर खीरी कांड का हुआ सीन रिक्रिएशन : आरोपियों के साथ घटनास्थल पर मौजूद जांच एजेंसियां

Published on : 06:17 PM Oct 14, 2021

विशेष जांच समिति के डीआईजी उपेंद्र अग्रवाल के नेतृत्व में आज टीम ने तिकुनिया जाकर सीन रिक्रिएशन किया. सीन रिक्रिएशन 1 बजकर 10 मिनट पर शुरू हुआ जो 2.47 मिनट तक चला. जांच टीम ने मुख्य आरोपी आशीष मिश्र, अंकित दास, गनर लतीफ और ड्राइवर शेखर भारती को घटनास्थल पर ले जाकर सीन का रिक्रिएशन कराया.

लखीमपुर खीरी: लखीमपुर खीरी जिले में गुरुवार को विशेष जांच समिति ने तिकुनिया हिंसा मामले में मुख्य आरोपी गृह राज्य मंत्री के बेटे आशीष मिश्रा समेत चारों आरोपियों को रिमांड पर लेकर सीन रीक्रिएट कराया. क्राइम ब्रांच दफ्तर से करीब12:00 बजे डीआईजी उपेंद्र अग्रवाल के नेतृत्व में टीम तिकुनिया के लिए रवाना हुई. करीब 1:10 पर तिकुनिया में घटनास्थल पर पुलिस ने पूरा सीन रीक्रिएट कराया. सीन रिक्रिएशन 1 बजकर 10 मिनट पर शुरू हुआ जो 2.47 मिनट तक चला. सबसे पहले अंकित दास के ड्राइवर को पुलिस ने गाड़ी से उतारा और उससे पूछताछ की. गाड़ियां कहां थी कैसे निकली थी और कहां पर पलटी थी. इसके बाद अंकित दास को भी गाड़ियों से निकालकर पुलिस ने पूछताछ की. इस दौरान डीआईजी उपेंद्र अग्रवाल के साथ उनकी पूरी जांच समिति और तमाम पुलिसकर्मी और सुरक्षाकर्मी मौजूद थे.

Advertisement

window.googletag = window.googletag || {cmd: []}; googletag.cmd.push(function() {var userAgent = window.navigator.userAgent.toLowerCase();var Andrioid_App = /webview|wv/.test(userAgent);var Android_Msite = /Android|webOS|BlackBerry|IEMobile|Opera Mini/i.test(navigator.userAgent);var iosphone = /iPhone|iPad|iPod/i.test(navigator.userAgent);var is_iOS_Mobile = /(iPhone|iPod|iPad).*applewebkit(?!.*version)/i.test(navigator.userAgent); if ( Andrioid_App == true || iosphone == true ) {console.log("Mobile"); var slot_5802 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-APP-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-3803890989952-0").addService(googletag.pubads());}else if(Android_Msite == true || is_iOS_Mobile == true){console.log("m site"); var slot_5802 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-MDOT-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-3803890989952-0").addService(googletag.pubads());}else{console.log("Web"); var slot_5802=googletag.defineSlot("/175434344/ETB-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-728x90-1", [728, 90], "div-gpt-ad-3803890989952-0").addService(googletag.pubads());} googletag.pubads().enableSingleRequest();googletag.pubads().collapseEmptyDivs();googletag.enableServices(); googletag.display("div-gpt-ad-3803890989952-0");googletag.pubads().refresh([slot_5802]);googletag.pubads().setCentering(true); });
googletag.cmd.push(function() { googletag.display("div-gpt-ad-3803890989952-0");googletag.pubads().refresh(); });
लखीमपुर खीरी कांड का हुआ सीन रिक्रिएशन

इस दौरान एसएसबी को भी सुरक्षा के लिए लगाया गया था. इस दौरान पुतले और झंडे लेकर किसानों को सड़क के दोनों तरफ खड़ा किया गया था. इसके बाद पुलिस की एक जीप को थार के रूप में उसके पीछे एक फॉर्च्यूनर और एक स्कॉर्पियो गाड़ी लाई गई, फिर पुतलों को टक्कर मारी गई. जिस तरह घटना वाले दिन किसानों को पीछे से थार ने टक्कर मारी थी. पुलिस ने पूरे सीन को रीक्रिएट कराया. आईपीएस सुनील सिंह के साथ फोरेंसिक टीम ने भी नाप-जोख की. इसके बाद पूरी जांच टीम अग्रवाल फिलिंग स्टेशन पर पहुंची, यहां सुबह अंकित दास ने चाय पी थी. टीम ने बनवीरपुर गांव से घटनास्थल की एक्जैक्ट दूरी भी नापी.

आरोपियों के साथ सीन रिक्रिएशन कराने घटनास्थल पर पहुंची पुलिस टीम

क्राइम सीन रिक्रिएट कराने SIT स्पेशल इंवेस्टिगेटिंग कमेटी टीम घटनास्थल पर पहुंच गई है. सबसे पहले अंकित दास के ड्राइवर को गाड़ी से निकाल मौकाए वारदात पर पूछताछ हो रही है. क्राइम ब्रांच के साथ फोरेंसिक की टीम भी है. Advertisement

आशीष मिश्र समेत चारों आरोपियों को लेकर तिकुनिया के लिए निकली पुलिस

बता दें कि लखीमपुर हिंसा मामले में सह आरोपी अंकित दास ने बुधवार को एसआईटी के सामने आत्मसमर्पण कर दिया. दरअसल, पुलिस की ओर से क्राइम ब्रांच के समक्ष हाजिर होने का समन जारी किया गया था, जिसके बाद अंकित अपने गनमैन लतीफ और अधिवक्ताओं के साथ क्राइम ब्रांच के ऑफिस पहुंचा, जहां उसने आत्मसमर्पण कर दिया.

इसे भी पढ़ें-लखीमपुर हिंसा : फॉर्च्यूनर वाले अंकित दास ने SIT के सामने किया सरेंडर

window.googletag = window.googletag || {cmd: []}; googletag.cmd.push(function() {var userAgent = window.navigator.userAgent.toLowerCase();var Andrioid_App = /webview|wv/.test(userAgent);var Android_Msite = /Android|webOS|BlackBerry|IEMobile|Opera Mini/i.test(navigator.userAgent);var iosphone = /iPhone|iPad|iPod/i.test(navigator.userAgent);var is_iOS_Mobile = /(iPhone|iPod|iPad).*applewebkit(?!.*version)/i.test(navigator.userAgent); if ( Andrioid_App == true || iosphone == true ) {console.log("Mobile"); var slot_6396 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-APP-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-1679403351045-0").addService(googletag.pubads());}else if(Android_Msite == true || is_iOS_Mobile == true){console.log("m site"); var slot_6396 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-MDOT-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-1679403351045-0").addService(googletag.pubads());}else{console.log("Web"); var slot_6396=googletag.defineSlot("/175434344/ETB-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-728x90-1", [728, 90], "div-gpt-ad-1679403351045-0").addService(googletag.pubads());} googletag.pubads().enableSingleRequest();googletag.pubads().collapseEmptyDivs();googletag.enableServices(); googletag.display("div-gpt-ad-1679403351045-0");googletag.pubads().refresh([slot_6396]);googletag.pubads().setCentering(true); });
googletag.cmd.push(function() { googletag.display("div-gpt-ad-1679403351045-0");googletag.pubads().refresh(); });

3 अक्टूबर को तिकुनिया में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे पर आरोप है कि उसने प्रदर्शन कर रहे किसानों पर थार गाड़ी चला दी, जिसमें 4 किसानों और एक पत्रकार की मौत हो गई थी. उसके बाद उपजे हिंसा में दो बीजेपी कार्यकर्ता और एक ड्राइवर भी मारे गए थे. एसआईटी टीम इस मामले की जांच कर रही है.

Next
Latest news direct to your inbox.