रूस ने अमेरिका के कुछ राजनयिकों को 31 जनवरी तक देश छोड़ने के लिए कहा

Published on : 09:21 PM Dec 01, 2021

रूस ने बुधवार को कहा कि अमेरिका के कुछ राजनयिकों (Some US diplomats) को अगला महीना समाप्त होने से पहले यानी 31 जनवरी तक देश छोड़ (Leave the country by 31 January) देना होगा.

मॉस्को : रूस ने अमेरिका के कुछ राजनयिकों को 31 जनवरी तक देश छोड़ने (Leave the country by 31 January) के लिए कहा है. रूस के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया जाखारोवा (Russian Foreign Ministry spokeswoman Maria Zakharova) ने कहा कि अमेरिकी दूतावास के ऐसे कर्मचारी जिन्हें रूस में तीन वर्ष से अधिक वक्त हो गया है,उन्हें 31 जनवरी तक देश छोड़ना होगा.

Advertisement

window.googletag = window.googletag || {cmd: []}; googletag.cmd.push(function() {var userAgent = window.navigator.userAgent.toLowerCase();var Andrioid_App = /webview|wv/.test(userAgent);var Android_Msite = /Android|webOS|BlackBerry|IEMobile|Opera Mini/i.test(navigator.userAgent);var iosphone = /iPhone|iPad|iPod/i.test(navigator.userAgent);var is_iOS_Mobile = /(iPhone|iPod|iPad).*applewebkit(?!.*version)/i.test(navigator.userAgent); if ( Andrioid_App == true || iosphone == true ) {console.log("Mobile"); var slot_4189 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-APP-ADP-HIndi-Delhi-International-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-698727907026-0").addService(googletag.pubads());}else if(Android_Msite == true || is_iOS_Mobile == true){console.log("m site"); var slot_4189 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-MDOT-ADP-HIndi-Delhi-International-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-698727907026-0").addService(googletag.pubads());}else{console.log("Web"); var slot_4189=googletag.defineSlot("/175434344/ETB-ADP-HIndi-Delhi-International-728x90-1", [728, 90], "div-gpt-ad-698727907026-0").addService(googletag.pubads());} googletag.pubads().enableSingleRequest();googletag.pubads().collapseEmptyDivs();googletag.enableServices(); googletag.display("div-gpt-ad-698727907026-0");googletag.pubads().refresh([slot_4189]);googletag.pubads().setCentering(true); });
googletag.cmd.push(function() { googletag.display("div-gpt-ad-698727907026-0");googletag.pubads().refresh(); });

उन्होंने कहा कि रूस की यह मांग अमेरिकी कार्रवाई के बदले में है, जिसमें रूस के 55 राजनयिकों को देश छोड़ने को कहा गया है. प्रवक्ता ने कहा कि हम अमेरिका की मांग को निष्कासन के तौर पर देखते हैं और इसका उसी तरह जवाब देंगे.

वॉशिंगटन में रूस के राजदूत एनातोले एंतोनोव (Russian Ambassador to Washington Anatole Antonov) ने पिछले सप्ताह कहा था कि 30 जनवरी तक रूस के 27 राजनयिकों को देश छोड़ना होगा और इसके छह माह बाद इतनी ही संख्या में राजनयिकों को फिर जाना होगा. उन्होंने अमेरिका के विदेश मंत्रालय के उस तर्क को खारिज कर दिया था कि रूसी राजनयिकों को इसलिए जाना होगा क्योंकि उनका वीजा समाप्त हो रहा है. Advertisement

Read More :

एंतोनोव ने कहा था कि वीजा की अवधि बढ़ाने से अमेरिका का इनकार राजनयिकों के निष्कासन के तौर पर देखा जाएगा. रूस के उप विदेश मंत्री यूरी रियाबकोव ने अमेरिका के कदम को राजनयिक मिशनों का विध्वंस करार दिया था.

यह भी पढ़ें- अमेरिकी सांसदों ने प्रशासन से 'डॉक्यूमेंटिड ड्रीमर्स' के लिए DACA का दायरा बढ़ाने की अपील की

window.googletag = window.googletag || {cmd: []}; googletag.cmd.push(function() {var userAgent = window.navigator.userAgent.toLowerCase();var Andrioid_App = /webview|wv/.test(userAgent);var Android_Msite = /Android|webOS|BlackBerry|IEMobile|Opera Mini/i.test(navigator.userAgent);var iosphone = /iPhone|iPad|iPod/i.test(navigator.userAgent);var is_iOS_Mobile = /(iPhone|iPod|iPad).*applewebkit(?!.*version)/i.test(navigator.userAgent); if ( Andrioid_App == true || iosphone == true ) {console.log("Mobile"); var slot_606 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-APP-ADP-HIndi-Delhi-International-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-5019820902255-0").addService(googletag.pubads());}else if(Android_Msite == true || is_iOS_Mobile == true){console.log("m site"); var slot_606 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-MDOT-ADP-HIndi-Delhi-International-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-5019820902255-0").addService(googletag.pubads());}else{console.log("Web"); var slot_606=googletag.defineSlot("/175434344/ETB-ADP-HIndi-Delhi-International-728x90-1", [728, 90], "div-gpt-ad-5019820902255-0").addService(googletag.pubads());} googletag.pubads().enableSingleRequest();googletag.pubads().collapseEmptyDivs();googletag.enableServices(); googletag.display("div-gpt-ad-5019820902255-0");googletag.pubads().refresh([slot_606]);googletag.pubads().setCentering(true); });
googletag.cmd.push(function() { googletag.display("div-gpt-ad-5019820902255-0");googletag.pubads().refresh(); });

गौरतलब है कि यूक्रेन के क्रीमिया पर रूस के कब्जे, अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में रूसी हस्तक्षेप, हैकिंग जैसे आरोपों के चलते अमेरिका और रूस के संबंधों में हाल के दिनों में काफी तल्खी आई है और दोनों ने एक दूसरे के राजनयिकों को निकालने तथा पाबंदियां लगाने जैसे कई कदम उठाए हैं.

(पीटीआई-भाषा)

Next
Latest news direct to your inbox.