Ranthambore National Park : कांग्रेस पार्षद ने किया बाघिन को डिस्टर्ब तो वन विभाग ने थमाया नोटिस, कहा- ये अपराध है...

Published on : 10:44 AM Apr 13, 2022

सवाई माधोपुर स्थित रणथंभौर नेशनल पार्क से वन्यजीवों एवं खासतौर से टाइगर के बाहर आने की घटनाएं यूं तो आए दिन होती रहती हैं. लेकिन इस बार मामला उस वक्त सुर्खियों में आ गया (Video Viral of Ranthambore Tigress) जब नेशनल पार्क से निकलकर एक बाघिन के बाहर आने पर वीडियो वायरल करने वाले कांग्रेस के एक पार्षद को वन विभाग ने नोटिस थमा दिया. मामला पूरी तरह से राजनीतिक सुर्खियों में आ गया है.

सवाई माधोपुर. रणथंभौर नेशनल पार्क से सोमवार रात्रि एक बाघिन निकलकर सड़क की ओर आ गई. अमरेश्वर वन क्षेत्र के पास का यह मामला बताया जा रहा है, जहां देर शाम को टाइगर की भनक लगने के पश्चात अन्य कई लोग भी मौके पर पहुंच गए. वहीं, बाघिन पर वाहनों की हेड लाइट मार कर कई लोगों ने वीडियो भी बनाया. इस दौरान नगर परिषद के पार्षद फुरकान अली भी मौके पर पहुंचे, जहां अन्य लोगों की तरह ही उन्होंने भी अपने मोबाइल से वीडियो बनाया और सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया. लेकिन यह मामला वन विभाग को नागवार गुजरा और वन विभाग की ओर से सोशल मीडिया पर टाइगर एक्टिविटीज को हाइलाइट करने वाले नगर परिषद कांग्रेसी पार्षद फुरकान अली को वन विभाग की ओर से कारण बताओ नोटिस थमा दिया गया और तीन दिन में जवाब मांगा है. वन्य जीव सुरक्षा अधिनियम के तहत (Action Under Wildlife Protection Act) अपराध की श्रेणी में मानते हुए वन विभाग ने पार्षद को नोटिस जारी किया है.

Advertisement

window.googletag = window.googletag || {cmd: []}; googletag.cmd.push(function() {var userAgent = window.navigator.userAgent.toLowerCase();var Andrioid_App = /webview|wv/.test(userAgent);var Android_Msite = /Android|webOS|BlackBerry|IEMobile|Opera Mini/i.test(navigator.userAgent);var iosphone = /iPhone|iPad|iPod/i.test(navigator.userAgent);var is_iOS_Mobile = /(iPhone|iPod|iPad).*applewebkit(?!.*version)/i.test(navigator.userAgent); if ( Andrioid_App == true || iosphone == true ) {console.log("Mobile"); var slot_138 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-APP-ADP-HIndi-Delhi-Bharat-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-8168583269331-1").addService(googletag.pubads());}else if(Android_Msite == true || is_iOS_Mobile == true){console.log("m site"); var slot_138 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-MDOT-ADP-HIndi-Delhi-Bharat-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-8168583269331-1").addService(googletag.pubads());}else{console.log("Web"); var slot_138=googletag.defineSlot("/175434344/ETB-ADP-HIndi-Delhi-Bharat-728x90-1", [728, 90], "div-gpt-ad-8168583269331-1").addService(googletag.pubads());} googletag.pubads().enableSingleRequest();googletag.pubads().collapseEmptyDivs();googletag.enableServices(); googletag.display("div-gpt-ad-8168583269331-1");googletag.pubads().refresh([slot_138]);googletag.pubads().setCentering(true); });
googletag.cmd.push(function() { googletag.display("div-gpt-ad-8168583269331-1");googletag.pubads().refresh(); });
किसने क्या कहा, सुनिए...

इस मामले में नगर परिषद पार्षद फुरकान अली का कहना है कि उनके खिलाफ विगत कुछ समय से राजनीतिक द्वेषता से ओतप्रोत दबाव बनाकर कार्रवाई की जा रही है. फुरकान अली का कहना है कि जिस वक्त उन्होंने वीडियो बनाया, उस वक्त मौके पर अन्य भी कई लोग थे. उन्होंने भी वीडियो बनाया था. इसके अलावा वे रणथंभौर की ओर जाने वाली मुख्य सड़क पर थे. वन क्षेत्र में भी इस दौरान (Congress Councilor from Sawai Madhopur Furkan Ali) उन्होंने कदम नहीं रखा. इसलिए उन्होंने वन विभाग की कार्रवाई को राजनीतिक द्वेषता करार दिया है.

पढ़ें : Tigress Noor Killed Wild Boar in Ranthambore : बाघिन के हमले से वाइल्ड बोर ढेर, रणथम्भौर में अद्भुत दृश्य देख पर्यटक हुए रोमांचित... Advertisement

Read More :

गौरतलब है कि कांग्रेस पार्षद फुरकान अली की पिछले कुछ समय से लगातार सवाई माधोपुर के ही एक बड़े कांग्रेस नेता से अनबन चली आ रही है. ऐसे में राजनीतिक द्वेषतापूर्ण कार्रवाई इसका प्रत्यक्ष प्रमाण भी है. इससे पूर्व भी सड़क पर कई मर्तबा टाइगर आया है और लोगों ने इसके वीडियो बनाकर (Video Viral of Ranthambore Tigress) वायरल भी किए हैं, लेकिन यह मामला पूरी तरह से राजनीति से ओतप्रोत बताया जा रहा है. देखना होगा कि मामले में अब क्या कार्रवाई की जाती है.

Next
Latest news direct to your inbox.