एसएसबी ने हटाई पाबंदी, 18 महीने बाद अब नेपाल जा सकेंगे निजी वाहन

Published on : 04:16 PM Oct 03, 2021

महराजगंज जिले से सटे भारत-नेपाल के सोनौली और ठूठीबारी बॉर्डर पर एसएसबी द्वारा लगाई गई पाबंदी को उच्च अधिकारियों का आदेश मिलने के बाद रविवार से हटा दिया गया है. आज से निजी वाहनों को जाने की अनुमति दे दी गई है. जिसको लेकर के सीमा पर अब चाल - पहल बढ़ गई है.

महराजगंज: जिले के सोनौली और ठूठीबारी सीमा से 18 महीनें बाद शर्तों के साथ अपने निजी वाहनों से नेपाल जाने की अनुमति मिल गई है. साथ ही सीमा पर कोविड जांच का नेगेटिव रिपोर्ट दिखाना होगा. बता दें कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए नेपाल सरकार ने 22 मार्च 2020 को भारत सीमा से आवागमन पर पाबंदी लगाई थी. जिसके बाद से केवल मालवाहक वाहनों को ही प्रवेश दिया जा रहा था. इसके अलावा स्वास्थ्य संबंधी सेवाओं से जुड़े लोगों को अनुमति के बाद आने-जाने दिया जा रहा था. जबकि पर्यटकों के आने-जाने पर पूरी तरह से पाबंदी लगाई गई थी.

उच्च अधिकारियों का आदेश मिलने के बाद रविवार से सोनौली और ठूठीबारी सीमा से अपने निजी वाहन को लेकर अब कोई भी नेपाल जा सकता है. विश्व पर्यटन दिवस को लेकर 27 सितंबर को ही नेपाल ने अपनी सीमा को खोल दिया था, लेकिन एसएसबी का आदेश न मिलने का हवाला देकर वाहनों को नेपाल नहीं जाने दिया जा रहा था. एसएसबी का कहना था कि उनके पास कोई आदेश नहीं आया है. जिसके कारण नेपाल में निजी वाहनों के प्रवेश पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई थी.

Advertisement

window.googletag = window.googletag || {cmd: []}; googletag.cmd.push(function() {var userAgent = window.navigator.userAgent.toLowerCase();var Andrioid_App = /webview|wv/.test(userAgent);var Android_Msite = /Android|webOS|BlackBerry|IEMobile|Opera Mini/i.test(navigator.userAgent);var iosphone = /iPhone|iPad|iPod/i.test(navigator.userAgent);var is_iOS_Mobile = /(iPhone|iPod|iPad).*applewebkit(?!.*version)/i.test(navigator.userAgent); if ( Andrioid_App == true || iosphone == true ) {console.log("Mobile"); var slot_2974 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-APP-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-3356885321386-0").addService(googletag.pubads());}else if(Android_Msite == true || is_iOS_Mobile == true){console.log("m site"); var slot_2974 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-MDOT-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-3356885321386-0").addService(googletag.pubads());}else{console.log("Web"); var slot_2974=googletag.defineSlot("/175434344/ETB-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-728x90-1", [728, 90], "div-gpt-ad-3356885321386-0").addService(googletag.pubads());} googletag.pubads().enableSingleRequest();googletag.pubads().collapseEmptyDivs();googletag.enableServices(); googletag.display("div-gpt-ad-3356885321386-0");googletag.pubads().refresh([slot_2974]);googletag.pubads().setCentering(true); });
googletag.cmd.push(function() { googletag.display("div-gpt-ad-3356885321386-0");googletag.pubads().refresh(); });
एसएसबी ने हटाई पाबंदी
भारत नेपाल मैत्री संघ ने इस संबंध में विदेश मंत्रालय को पत्र लिखा था. जिसके बाद शनिवार को भारत सरकार का आदेश मिलने के बाद रविवार से सीमा की सुरक्षा में तैनात एसएसबी ने लगाई गई पाबंदी को हटा लिया है. नेपाल के रूपनदेही जिले के सीडीओ ऋषि राम तिवारी ने बताया है कि नेपाल जाने वाले लोगों पर कई शर्तें भी लगाई गई हैं. ठूठीबारी और सोनौली सीमा से भारतीय व विदेशी पर्यटकों को ऑनलाइन फॉर्म भरकर नेपाल में प्रवेश करने की अनुमति मिलेगी. यात्रियों को कोरोना जांच की रिपोर्ट व टीकाकरण प्रमाण पत्र भी दिखाना पड़ेगा.

इसे भी पढ़ें- योगी आदित्यनाथ ने दिए महामारी अधिनियम के तहत दर्ज मुकदमे खत्म करने के आदेश

Advertisement
Next
Latest news direct to your inbox.