लखीमपुर खीरी के तिकुनियां में मारे गए किसानों की हुई अंतिम अरदास, हुए ये एलान

Published on : 10:24 PM Oct 12, 2021

संयुक्त किसान मोर्चा के सभी नेताओं ने मंच से एक-एक करके भाषण दिया. सभी ने तीनों कृषि कानूनों का विरोध किया. कहा कि यह कृषि कानून किसानों की विरोधी हैं. तिकुनियां में हुई किसानों की मौत पर सभी किसानों ने शोक भी व्यक्त किया. गुस्सा भी जताया. कहा कि सरकार अब किसानों के आंदोलन को कुचलना चाह रही है. कहा कि 10 महीने से सरकार किसानों से बात नहीं कर रही है. किसान झुकने वाले भी नहीं.

लखीमपुर खीरी : तिकुनियां में कार के नीचे कुचलकर मारे गए चार किसान और एक पत्रकार की याद में संयुक्त किसान मोर्चा के अंतिम अरदास कार्यक्रम में हजारों की भीड़ जुटी.

Advertisement

window.googletag = window.googletag || {cmd: []}; googletag.cmd.push(function() {var userAgent = window.navigator.userAgent.toLowerCase();var Andrioid_App = /webview|wv/.test(userAgent);var Android_Msite = /Android|webOS|BlackBerry|IEMobile|Opera Mini/i.test(navigator.userAgent);var iosphone = /iPhone|iPad|iPod/i.test(navigator.userAgent);var is_iOS_Mobile = /(iPhone|iPod|iPad).*applewebkit(?!.*version)/i.test(navigator.userAgent); if ( Andrioid_App == true || iosphone == true ) {console.log("Mobile"); var slot_7734 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-APP-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-6997660891184-0").addService(googletag.pubads());}else if(Android_Msite == true || is_iOS_Mobile == true){console.log("m site"); var slot_7734 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-MDOT-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-6997660891184-0").addService(googletag.pubads());}else{console.log("Web"); var slot_7734=googletag.defineSlot("/175434344/ETB-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-728x90-1", [728, 90], "div-gpt-ad-6997660891184-0").addService(googletag.pubads());} googletag.pubads().enableSingleRequest();googletag.pubads().collapseEmptyDivs();googletag.enableServices(); googletag.display("div-gpt-ad-6997660891184-0");googletag.pubads().refresh([slot_7734]);googletag.pubads().setCentering(true); });
googletag.cmd.push(function() { googletag.display("div-gpt-ad-6997660891184-0");googletag.pubads().refresh(); });

इसमें बड़ी संख्या में किसान आए. संयुक्त किसान मोर्चा के प्रो. दर्शनपाल ने मंच का संचालन किया. किसानों को सभी ने श्रद्धांजलि अर्पित की. किसान लवप्रीत सिंह, नछत्तर सिंह, गुरविंदर सिंह, दलजीत सिंह और पत्रकार रमन कश्यप के परिजनों को संयुक्त किसान मोर्चा ने हरा गमछा देकर सम्मानित भी किया. मंच से एलान किया गया कि जब तक मंत्री की बर्खास्तगी और गिरफ्तारी नहीं की जाती तब तक आंदोलन जारी रहेगा.

लखीमपुर खीरी के तिकोनियां में मारे गए किसानों की हुई अंतिम अरदास, हुए ये एलान

संयुक्त किसान मोर्चा के नेता बलवीर सिंह राजेवाल, दल्लेवाल, जोगिंदर सिंह उग्राहा, गुरनाम सिंह चढूनी, अभिमन्यु कोहार, राकेश टिकैत व योगेंद्र यादव ने तिकुनियां कांड में मारे गए किसानों को शहीद का दर्जा दिया. कहा कि इन किसानों का नाम दिल्ली में किसान आंदोलन में मारे गए साढ़े सात सौ किसानों के आगे जुड़ गया. किसान मोर्चा के नेता प्रो. दर्शनपाल ने मंच से एलान किया कि शहीद किसानों की याद में गुरुद्वार दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी तिकुनिया में जमीन खरीदेगी और यहां शहीदों की याद में एक स्मारक बनाया जाएगा. हर साल यहां शहीदों की याद में मेला लगाया जाएगा. Advertisement

लखीमपुर खीरी के तिकोनियां में मारे गए किसानों की हुई अंतिम अरदास, हुए ये एलान

संयुक्त किसान मोर्चा के सभी नेताओं ने मंच से एक-एक करके भाषण दिया. सभी ने तीनों कृषि कानूनों का विरोध किया. कहा कि यह कृषि कानून किसानों की विरोधी हैं. तिकुनियां में हुई किसानों की मौत पर सभी किसानों ने शोक भी व्यक्त किया. गुस्सा भी जताया. कहा कि सरकार अब किसानों के आंदोलन को कुचलना चाह रही है. कहा कि 10 महीने से सरकार किसानों से बात नहीं कर रही है. किसान झुकने वाले भी नहीं.

लखीमपुर खीरी के तिकोनियां में मारे गए किसानों की हुई अंतिम अरदास, हुए ये एलान

यह भी पढ़ें : प्रियंका ने लखीमपुर खीरी में जो सियासी पिच सजाई, उस पर बैंटिग कर रहे हैं अखिलेश ?

window.googletag = window.googletag || {cmd: []}; googletag.cmd.push(function() {var userAgent = window.navigator.userAgent.toLowerCase();var Andrioid_App = /webview|wv/.test(userAgent);var Android_Msite = /Android|webOS|BlackBerry|IEMobile|Opera Mini/i.test(navigator.userAgent);var iosphone = /iPhone|iPad|iPod/i.test(navigator.userAgent);var is_iOS_Mobile = /(iPhone|iPod|iPad).*applewebkit(?!.*version)/i.test(navigator.userAgent); if ( Andrioid_App == true || iosphone == true ) {console.log("Mobile"); var slot_1874 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-APP-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-6711174087005-0").addService(googletag.pubads());}else if(Android_Msite == true || is_iOS_Mobile == true){console.log("m site"); var slot_1874 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-MDOT-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-6711174087005-0").addService(googletag.pubads());}else{console.log("Web"); var slot_1874=googletag.defineSlot("/175434344/ETB-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-728x90-1", [728, 90], "div-gpt-ad-6711174087005-0").addService(googletag.pubads());} googletag.pubads().enableSingleRequest();googletag.pubads().collapseEmptyDivs();googletag.enableServices(); googletag.display("div-gpt-ad-6711174087005-0");googletag.pubads().refresh([slot_1874]);googletag.pubads().setCentering(true); });
googletag.cmd.push(function() { googletag.display("div-gpt-ad-6711174087005-0");googletag.pubads().refresh(); });

संयुक्त किसान मोर्चा ने तिकुनियां में अंतिम अरदास के बाद कहा कि मारे गए चार किसान और एक पत्रकार की याद में संयुक्त किसान मोर्चा किसानों के अस्थि कलश देश के अलग-अलग राज्यों में ले जाएगा. इनकी यात्राएं निकाली जाएंगी. गांव-गांव घुमाया जाएगा और फिर इनका विसर्जन किया जाएगा.

लखीमपुर खीरी के तिकोनियां में मारे गए किसानों की हुई अंतिम अरदास, हुए ये एलान

किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि यूपी के भी 75 जिलों में अस्थि कलश ले जाकर गांव-गांव इनका पूजन होगा. फिर विसर्जन का कार्यक्रम होगा. राकेश टिकैत ने आज तिकुनियां में तीन अक्टूबर के बाद सरकार से समझौते पर खुद पर उठे सवालों पर भी सफाई दी. बोले समझौता संयुक्त किसान मोर्चा के 9 नेताओं की सहमति से बाबा अनूप सिंह के सामने हुआ. जो लोग किसान आंदोलन को कमजोर करना चाहते हैं, वही लोग ऐसा दुष्प्रचार कर रहे हैं कि राकेश टिकैत ने चुपचाप समझौता कर लिया.

लखीमपुर खीरी के तिकोनियां में मारे गए किसानों की हुई अंतिम अरदास, हुए ये एलान

आरएलडी के जयंत चौधरी भी आए. सपा और कांग्रेस भी तिकुनियां में अंतिम अरदास कार्यक्रम में शामिल हुई. समाजवादी पार्टी का प्रतिनिधिमंडल भी पहुंचा. जिले से सपा के राज्यसभा सांसद रवि वर्मा की बेटी पूर्वी वर्मा के नेतृत्व में जिला अध्यक्ष रामपाल यादव, अनुराग पटेल समेत तमाम नेताओं ने अंतिम अरदास में शिरकत की. कांग्रेस की तरफ से प्रियंका गांधी पहुंची. कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू समेत अन्य नेता भी उपस्थित हुए.

Next
Latest news direct to your inbox.