सपा नेताओं की सम्पत्तियों पर चला बुलडोजर, राम गोपाल यादव ने कसा तंज

Published on : 05:45 PM Jun 22, 2021

उत्तर प्रदेश के एटा जिले में सपा नेताओं की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं. पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष व पूर्व विधायक के आवास व मार्केट पर मंगलवार को दोबारा बुलडोजर चलाया गया है. इससे पूर्व दोनों नेताओं पर एक सप्ताह में चार मुकदमे दर्ज किए गए हैं. इस कार्रवाई पर सपा नेता प्रोफेसर रामगोपाल यादव ने भाजपा पर तंज कसा है.

एटा: समाजवादी पार्टी के पूर्व विधायक रामेश्वर सिंह यादव और पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेंद्र सिंह यादव की संपत्तियों पर एक बार फिर मंगलवार को फिर प्रशासन द्वारा बुलडोजर चलाया गया. मंडी समिति के पास बने मार्केट की दो दुकानें प्रशासन ने भारी फोर्स के साथ 10 जून को ध्वस्त कराईं थीं. बाकी का मार्केट आज गिराई जा रही है. यहीं पास में उनका फॉर्म हाउस भी स्थित है. इस पर भी ग्रामसभा की जमीन को कब्जा कर निर्माण करने का आरोप है. इसके बाहर की बाउंड्रीवॉल को गिरा दिया गया है और अंदर पैमाइश कराई जा रही है. पूरे एटा जिले का पुलिस फोर्स सहित एडीएम, एएसपी, सभी डिप्टी कलेक्टर व सीओ वहां मौजूद हैं.

बता दें कि पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेंद्र सिंह यादव की पत्नी रेखा यादव को एटा जिले से सपा ने जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव के लिए प्रत्याशी घोषित किया है. एक सप्ताह के अंदर पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष व उनके भाई पर अब तक चार मुकदमे दर्ज किए जा चुके हैं, लगातार कार्रवाइयों को लेकर सपा खेमे की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं.

रविवार को लिखा गया था, चौथा मुकदमा

थाना जैथरा में सपा नेता व पूर्व विधायक रामेश्वर सिंह यादव और इनके भाई पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेंद्र सिंह यादव सहित पांच के खिलाफ डेढ़ बिस्वा जमीन पर अवैध कब्जा करने का मुकदमा दर्ज कराया गया है. दोनों नेताओं के खिलाफ यह चौथा मुकदमा दर्ज हुआ है. पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है.

Advertisement

window.googletag = window.googletag || {cmd: []}; googletag.cmd.push(function() {var userAgent = window.navigator.userAgent.toLowerCase();var Andrioid_App = /webview|wv/.test(userAgent);var Android_Msite = /Android|webOS|BlackBerry|IEMobile|Opera Mini/i.test(navigator.userAgent);var iosphone = /iPhone|iPad|iPod/i.test(navigator.userAgent);var is_iOS_Mobile = /(iPhone|iPod|iPad).*applewebkit(?!.*version)/i.test(navigator.userAgent); if ( Andrioid_App == true || iosphone == true ) {console.log("Mobile"); var slot_1076 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-APP-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-5660137577922-0").addService(googletag.pubads());}else if(Android_Msite == true || is_iOS_Mobile == true){console.log("m site"); var slot_1076 = googletag.defineSlot("/175434344/ETB-MDOT-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-300x250-1", [300, 250], "div-gpt-ad-5660137577922-0").addService(googletag.pubads());}else{console.log("Web"); var slot_1076=googletag.defineSlot("/175434344/ETB-ADP-Hindi-uttar-pradesh-State-lucknow-728x90-1", [728, 90], "div-gpt-ad-5660137577922-0").addService(googletag.pubads());} googletag.pubads().enableSingleRequest();googletag.pubads().collapseEmptyDivs();googletag.enableServices(); googletag.display("div-gpt-ad-5660137577922-0");googletag.pubads().refresh([slot_1076]);googletag.pubads().setCentering(true); });
googletag.cmd.push(function() { googletag.display("div-gpt-ad-5660137577922-0");googletag.pubads().refresh(); });

दरअसल, रविवार रात थाने पर तहरीर देकर संटू निवासी गांगूपुरा ने मुकदमा दर्ज कराया है. आरोप है कि गांव गांगूपुरा स्थित गाटा संख्या 188-क रकबा 0.28 हेक्टेयर (सात बिस्वा) कृषि जमीन है. इस जमीन से साढ़े पांच बिस्वा का बैनामा 21 जुलाई 2014 को रामेश्वर सिंह यादव, जुगेंद्र सिंह यादव, दिनेश कुमार उर्फ गांधी निवासी ढकपुरा, राहुल उर्फ नीलू व धर्मेंद्र निवासी कस्बा धुमरी ने कराया था, शेष डेढ़ बिस्वा जमीन पर अवैध रूप से कब्जा कर लिया. आरोप है कि जमीन पर कब्जा करने का विरोध करने पहुंचे तो लाठी-डंडे और असलहा लेकर मारपीट की, जान से मारने की धमकी देकर मौके से भगा दिया. संटू ने तहरीर में लिखा है कि सपा सरकार में दबंग भू-माफिया जुगेंद्र सिंह सहित अन्य ने अवैध कब्जा किया था, तब थाने पर शिकायत की थी, लेकिन सरकार के दबाव में कोई सुनवाई नहीं हुई थी.



बता दें कि, इससे पहले दोनों नेताओं पर कोतवाली नगर में 14 जून को अवैध कब्जे के दो और 20 जून को जानलेवा हमले का एक मुकदमा लिखा जा चुका है, सीओ अलीगंज राघवेंद्र तिवारी ने बताया कि तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया गया है, मामले की जांच की जा रही है, दोषी मिलने पर कार्रवाई की जाएगी.
Advertisement

रामगोपाल यादव का ट्विट


वहीं, जिले के सपा नेताओं पर कार्रवाई को लेकर समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता रामगोपाल यादव ने ट्विटर पर अपना बयान जारी करते हुए कहा कि एटा में भाजपा को जिला पंचायत चुनाव में 30 में केवल दो सीटें मिली, बौखलाहट में प्रशासन ने पहले पूर्व विधायक रामेश्वर सिंह का मार्केट तोड़ा, झूठे मुकदमे कायम कराए.

उनके 20 साल पुराने आवास को गिराया जा रहा है, खबर ये भी है कि पूर्व अध्यक्ष जिला पंचायत जुगेंद्र सिंह पर आज ही पुलिस ने एक महिला के बलात्कार का फर्जी मुकदमा भी लिखवा रही है. शासन के मनमाफिक बात न बनी तो सपा प्रत्याशी का पर्चा रद्द करके चुनाव भी टालने की योजना है.


एटा पुलिस का बयान


वहीं, एटा पुलिस ने बताया कि जनपद के किसी भी थाने में बलात्कार संबंधी किसी भी प्रकार का अभियोग उक्त व्यक्तियों के विरुद्ध पंजीकृत नहीं हुआ है. भ्रामक रूप से यह खबर फैलाई जा रही है. जिसका एटा पुलिस द्वारा खंडन किया जाता है.

Next
Latest news direct to your inbox.